कांग्रेस को और दर्द देंगी ममता, अब उद्धव और पवार से मिलने का प्लान, अगले महीने जाएंगी राजस्थान I

 पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के विस्तार में जुटी हैं। राजनीतिक जानकारों का कहना है कि ममता अपनी पार्टी को भाजपा के खिलाफ कांग्रेस के विकल्प के तौर पर पेश कर रही है। अपने इन प्रयासों के बीच वह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी (NCP) सुप्रीमो शरद पवार से मिलने के लिए मंगलवार को मुंबई का दौरा करेंगी।

टीएमसी प्रवक्ता कुणाल घोष ने उनकी मुंबई यात्रा की पुष्टि करते हुए कहा कि ममता बनर्जी भाजपा के खिलाफ एक मजबूत विपक्षी चेहरा हैं। ममता बनर्जी के गोवा, यूपी, मेघालय, त्रिपुरा और असम में तृणमूल कांग्रेस का विस्तार करने के बाद दिसंबर के पहले सप्ताह में राजस्थान का दौरा करने की भी संभावना है। तृणमूल आगामी गोवा विधानसभा चुनाव लड़ने की योजना बना रही है। पार्टी त्रिपुरा में चल रहे नगर निकाय चुनाव में भी अपनी किस्मत आजमा रही है। हाल ही में, टीएमसी कांग्रेस के कई 'मोहभंग' नेताओं को अपने पाले में लाने में सफल रही है, जिसमें गोवा के पूर्व कांग्रेसी मुख्यमंत्री लुइज़िन्हो फलेरियो भी शामिल हैं। टीएमसी ने मेघालय में 18 में से 12 कांग्रेस विधायकों को भी अपने पाले में कर लिया। इससे टीएमसी राज्य विधानसभा में प्रमुख विपक्ष बन गई है। 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले विपक्षी दलों को भाजपा के खिलाफ एकजुट करने के लिए ममता बनर्जी की कोशिशें जारी हैं। इस साल की शुरुआत में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में अपनी जीत के बाद वह विभिन्न विपक्षी दलों के साथ बातचीत कर रही हैं। अपनी दो दिवसीय मुंबई यात्रा के दौरान, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के राज्य में निवेश के लिए कुछ व्यापारिक प्रमुखों से मिलने की भी संभावना है।

Post a Comment

Previous Post Next Post